कुमाउनी काव्य पुस्तक चर्चा – Dr. Pawanesh

कठिन नहीं कोई भी काम, हर काम संभव है। मुश्किल लगे जो मुकाम, वह मुकाम संभव है - डॉ. पवनेश।

Category: कुमाउनी काव्य पुस्तक चर्चा

कविता संग्रह राफ और राफ से चयनित 5 कविताएँ

कविता संग्रह राफ और राफ से चयनित 5 कविताएँ        डॉ. देव सिंह पोखरिया के ‘राफ’ कविता संग्रह को वर्ष 2022 का शेर सिंह बिष्ट ‘अनपढ़’ कुमाउनी कविता पुरस्कार देने की घोषणा हुई हैं। यहाँ प्रस्तुत है ‘राफ’ कविता संग्रह के विषय में संक्षिप्त जानकारी व संग्रह से चयनित 5 कविताएँ- राफ कविता

गिरीश तिवाड़ी ‘गिर्दा’ का काव्य संग्रह: जैंता एक दिन तो आलो

गिरीश तिवाड़ी ‘गिर्दा’ का काव्य संग्रह: जैंता एक दिन तो आलो कविता संग्रह के विषय में- जैंता एक दिन तो आलो     ‘जैंता एक दिन तो आलो’ कवि गिरीश तिवाड़ी ‘गिर्दा’ का काव्य संकलन है। इस संकलन का पहला संस्करण वर्ष 2011 में पहाड़ प्रकाशन, नैनीताल से हुआ है। यह काव्य संग्रह दो खंडों

गोपाल दत्त भट्ट का कविता संग्रह: धर्तिकि पीड़

Kumauni Poetry Collection: Dhartiki pid ‘धर्तिकि पीड़’ कुमाउनी कवि गोपाल दत्त भट्ट का कविता संग्रह है। आइये जानते हैं पुस्तक और रचनाकार के विषय में- कविता संग्रह के विषय में- धर्तिकि पीड़      कुमाउनी कवि गोपाल दत्त भट्ट के पहले कुमाउनी कविता संग्रह ‘धर्तिकि पीड़’ का प्रकाशन 1982 में साकेत प्रकाशन, गरूड़ से हुआ।

कुमाउनी खंडकाव्य-पंचप्रिया: डॉ. पीताम्बर अवस्थी

कुमाउनी खंडकाव्य-पंचप्रिया: डॉ. पीताम्बर अवस्थी   साथियों, आज हम पिथौरागढ़ के लेखक व समाजसेवी डॉ. पीतांबर अवस्थी द्वारा रचित कुमाउनी खंडकाव्य ‘पंचप्रिया’ के विषय में चर्चा करते हैं-  पुस्तक के विषय में-            पंचप्रिया            पंचप्रिया डॉ. पीतांबर अवस्थी जी का कुमाउनी खंडकाव्य है। यह खंडकाव्य वर्ष 2020 में

बंशीधर पाठक ‘जिज्ञासु’ का कविता संग्रह- सिसौण

कुमाउनी कविता संग्रह: सिसौण Kumauni Poetry Collection: Sisaun ‘सिसौण’ कुमाउनी कवि बंशीधर पाठक ‘जिज्ञासु’ का कविता संग्रह है। आइये जानते हैं पुस्तक और रचनाकार के विषय में- कविता संग्रह के विषय में- सिसौण      ‘सिसौण’ कुमाउनी कवि बंशीधर पाठक ‘जिज्ञासु’ का कविता संग्रह है। इस संग्रह के पहले संस्करण का प्रकाशन 1984 में नंदा

चारूचंद्र पांडे का कुमाउनी कविता संग्रह: अङवाल

कुमाउनी कविता संग्रह: अङवाल Kumauni Poetry Collection: anwal ‘अङवाल’ साहित्य अकादमी भाषा पुरस्कार से पुरस्कृत कवि चारू चंद्र पांडे का कविता संग्रह है। आइये जानते हैं पुस्तक और रचनाकार के विषय में- कविता संग्रह के विषय में- अङवाल      ‘अङवाल’ कुमाउनी कवि चारूचंद्र पांडे का कविता संग्रह है। इस संग्रह के पहले संस्करण का

मोहनराम टम्टा ‘कुमाउनी’ और उनका कुमाउनी कविता संग्रह: संस्कृतिक-धरौट (Sanskritik Dharaut)

कुमाउनी कविता संग्रह: संस्कृतिक-धरौट Kumauni Poetry Collection: Sanskritik Dharaut कुमाउनी के वरिष्ठ कवि मोहनराम टम्टा ‘कुमाउनी’ का विगत 06 सितंबर को निधन हो गया। वे लंबे समय से अस्वस्थ चल रहे थे। टम्टाजी का कुमाउनी में एक कविता संग्रह प्रकाशित हुआ था। आइये जानते हैं उसी के विषय में- कविता संग्रह के विषय में- संस्कृतिक-धरौट

कुमाउनी कविता संग्रह: चांदि और सुनार  ( Kumauni Poetry Collection: Chandi aur Sunar )

कुमाउनी कविता संग्रह: चांदि और सुनार  Kumauni Poetry Collection: Chandi aur Sunar ‘चांदि और सुनार’ कुमाउनी के वरिष्ठ कवि जगदीश जोशी का कविता संग्रह है। आइये जानते हैं कविता संग्रह व रचनाकार के विषय में- कविता संग्रह के विषय में-              चांदि और सुनार        चांदि और सुनार

कुमाउनी कविता संग्रह: बखत (Kumauni Poetry Collection:Bakhat)

कुमाउनी कविता संग्रह: बखत Kumauni Poetry Collection: Bakhat      आज हम चर्चा करते हैं कुमाउनी कविता संग्रह ‘बखत’ के विषय में। ‘बखत’ कविता संग्रह के रचनाकार हैं-जुगल किशोर पेटशाली। आइये जानते हैं पुस्तक और रचनाकार के विषय में।  कविता संग्रह के विषय में- बखत (कुमाउनी कविता संग्रह)         ‘बखत’ कविता संग्रह के

कुमाउनी कविता संग्रह: भारत माता (Kumauni Poetry Collection: Bharat Mata)

कुमाउनी कविता संग्रह: भारत माता Kumauni Poetry Collection: Bharat Mata      आज हम चर्चा करते हैं कुमाउनी कविता संग्रह ‘भारत माता’ के विषय में। ‘भारत माता’ कुमाउनी के ऐसे रचनाकार का काव्य संग्रह है, जिनका कुमाउनी भाषा को कुमाऊँ विश्वविद्यालय के सोबन सिंह जीना परिसर,अल्मोड़ा में पठन-पाठन हेतु उपलब्ध कराने में योगदान रहा है।
error: Content is protected !!