साथियों, देश में कोरोना वायरस की तीसरी लहर का खतरा बना हुआ है। इसलिए हम सभी को सजग रहने की जरूरत है। वैक्सीन जरूर लगायें और कोविड नियमों का पालन करें। तभी हम स्वयं की व दूसरों की सुरक्षा कर पाने में सक्षम हो पायेेंगे।

Category: कुमाउनी पुस्तक चर्चा

कुमाउनी का पहला व्यंग्य संग्रह: ठेकुवा

कुमाउनी का पहला व्यंग्य संग्रह: ठेकुवा पुस्तक के विषय में-       कुमाउनी कवि और लेखक प्रकाश चंद्र जोशी ‘शूल’ के ‘ठेकुवा’ व्यंग्य संग्रह का प्रकाशन मार्च, 2012 में हिमाल प्रेस, पिथौरागढ़ से हुआ। इस व्यंग्य संग्रह में शूल जी के भल फिरि ऊनु, ठेकुवा, ई काफल हैं सैपो, लाल कुत्तम अति उत्तम, सड़ियौ

रतन सिंह किरमोलिया का बाल कहानी संग्रह: आमाक पहरू

रतन सिंह किरमोलिया का बाल कहानी संग्रह: आमाक पहरू साथियों, आज हम चर्चा करते हैं कुमाउनी कहानी संग्रह ‘आमाक पहरू’ के विषय में। इस कहानी संग्रह के लेखक हैं- साहित्यकार रतन सिंह किरमोलिया। आइये जानते हैं पुस्तक और लेखक के विषय में- कहानी संग्रह के विषय में- आमाक पहरू     ‘आमाक पहरू’ लेखक रतन

उदय किरौला का बाल कहानी संग्रह: जागरै दिनै बात

उदय किरौला और बाल कहानी संग्रह ‘जागरै दिनै बात’ साथियों, आज हम चर्चा करते हैं कुमाउनी कुमाउनी कहानी संग्रह ‘जागरै दिनै बात’ के विषय में। इस कहानी संग्रह के लेखक हैं, संपादक व साहित्यकार उदय किरौला। आइये जानते हैं पुस्तक और लेखक के विषय में- कहानी संग्रह के विषय में- जागरै दिनै बात    

गिरीश तिवाड़ी ‘गिर्दा’ का काव्य संग्रह: जैंता एक दिन तो आलो

गिरीश तिवाड़ी ‘गिर्दा’ का काव्य संग्रह: जैंता एक दिन तो आलो कविता संग्रह के विषय में- जैंता एक दिन तो आलो     ‘जैंता एक दिन तो आलो’ कवि गिरीश तिवाड़ी ‘गिर्दा’ का काव्य संकलन है। इस संकलन का पहला संस्करण वर्ष 2011 में पहाड़ प्रकाशन, नैनीताल से हुआ है। यह काव्य संग्रह दो खंडों

गोपाल दत्त भट्ट का कविता संग्रह: धर्तिकि पीड़

Kumauni Poetry Collection: Dhartiki pid ‘धर्तिकि पीड़’ कुमाउनी कवि गोपाल दत्त भट्ट का कविता संग्रह है। आइये जानते हैं पुस्तक और रचनाकार के विषय में- कविता संग्रह के विषय में- धर्तिकि पीड़      कुमाउनी कवि गोपाल दत्त भट्ट के पहले कुमाउनी कविता संग्रह ‘धर्तिकि पीड़’ का प्रकाशन 1982 में साकेत प्रकाशन, गरूड़ से हुआ।

कुमाउनी खंडकाव्य-पंचप्रिया: डॉ. पीताम्बर अवस्थी

कुमाउनी खंडकाव्य-पंचप्रिया: डॉ. पीताम्बर अवस्थी   साथियों, आज हम पिथौरागढ़ के लेखक व समाजसेवी डॉ. पीतांबर अवस्थी द्वारा रचित कुमाउनी खंडकाव्य ‘पंचप्रिया’ के विषय में चर्चा करते हैं-  पुस्तक के विषय में-            पंचप्रिया            पंचप्रिया डॉ. पीतांबर अवस्थी जी का कुमाउनी खंडकाव्य है। यह खंडकाव्य वर्ष 2020 में

आयुर्वेद पर केंद्रित कुमाउनी पुस्तक: रोगनाशी जड़ी बूटियाँ 

    साथियों, आज हम पिथौरागढ़ के लेखक व समाजसेवी डॉ. पीतांबर अवस्थी द्वारा लिखित आयुर्वेदिक पुस्तक रोगनाशी जड़ी- बूटियाँ के विषय में चर्चा करते हैं-  पुस्तक के विषय में-  रोगनाशी जड़ी- बूटियाँ (लेख संग्रह)         डॉ. पीताम्बर अवस्थी की कुमाउनी में लिखित यह पुस्तक जड़ी- बूटियों पर जानकारी देने वाली अत्यंत महत्वपूर्ण

बंशीधर पाठक ‘जिज्ञासु’ का कविता संग्रह- सिसौण

कुमाउनी कविता संग्रह: सिसौण Kumauni Poetry Collection: Sisaun ‘सिसौण’ कुमाउनी कवि बंशीधर पाठक ‘जिज्ञासु’ का कविता संग्रह है। आइये जानते हैं पुस्तक और रचनाकार के विषय में- कविता संग्रह के विषय में- सिसौण      ‘सिसौण’ कुमाउनी कवि बंशीधर पाठक ‘जिज्ञासु’ का कविता संग्रह है। इस संग्रह के पहले संस्करण का प्रकाशन 1984 में नंदा

चारूचंद्र पांडे का कुमाउनी कविता संग्रह: अङवाल

कुमाउनी कविता संग्रह: अङवाल Kumauni Poetry Collection: anwal ‘अङवाल’ साहित्य अकादमी भाषा पुरस्कार से पुरस्कृत कवि चारू चंद्र पांडे का कविता संग्रह है। आइये जानते हैं पुस्तक और रचनाकार के विषय में- कविता संग्रह के विषय में- अङवाल      ‘अङवाल’ कुमाउनी कवि चारूचंद्र पांडे का कविता संग्रह है। इस संग्रह के पहले संस्करण का

मोहनराम टम्टा ‘कुमाउनी’ और उनका कुमाउनी कविता संग्रह: संस्कृतिक-धरौट (Sanskritik Dharaut)

कुमाउनी कविता संग्रह: संस्कृतिक-धरौट Kumauni Poetry Collection: Sanskritik Dharaut कुमाउनी के वरिष्ठ कवि मोहनराम टम्टा ‘कुमाउनी’ का विगत 06 सितंबर को निधन हो गया। वे लंबे समय से अस्वस्थ चल रहे थे। टम्टाजी का कुमाउनी में एक कविता संग्रह प्रकाशित हुआ था। आइये जानते हैं उसी के विषय में- कविता संग्रह के विषय में- संस्कृतिक-धरौट
error: Content is protected !!