साथियों, देश में कोरोना वायरस की तीसरी लहर का खतरा बना हुआ है। इसलिए हम सभी को सजग रहने की जरूरत है। वैक्सीन जरूर लगायें और कोविड नियमों का पालन करें। तभी हम स्वयं की व दूसरों की सुरक्षा कर पाने में सक्षम हो पायेेंगे।

बाल दिवस,2019 के अवसर पर प्रतियोगिताएं

बाल दिवस, 2019 के अवसर पर प्रतियोगिताएं

      अल्मोड़ा, बाल दिवस के अवसर पर बालप्रहरी, बालसाहित्य संस्थान तथा भारत ज्ञान विज्ञान समिति द्वारा स्व पुष्पलता जोशी स्मृति न्यास के सौजन्य से राजकीय इंटर कॉलेज अल्मोड़ा में आयोजित कार्यक्रम में अल्मोड़ा के 21 स्कूलों के 633 बच्चों ने प्रतिभागी किया। सभी प्रतिभागी बच्चों को मुख्य अतिथि पर्यावरणविद डॉ जे एस मेहता ने प्रशस्ति पत्र प्रदान किए। इस अवसर पर प्राथमिक, जूनियर व सीनियर वर्ग की चित्रकला प्रतियोगिता में तत्काल दिए विषय पर बच्चों ने ड्राइंग तैयार की। तीनों वर्ग की भाषण प्रतियोगिता में बच्चों को विषय बंद पर्ची के आधार पर तत्काल दिया गया। सीनियर व जूनियर वर्ग के बच्चों ने दिए हुए शब्दों के आधार पर कहानी व कविता तैयार की। 

     प्राथमिक वर्ग में बच्चों की श्रुतिलेख प्रतियोगिता हुई। 45 बच्चों को पुरस्कार दिया गया। सांत्वना पुरस्कार के तौर पर देश के विभिन्न राज्यों के लेखकों की पुस्तकें 135 बच्चों को पुरस्कार बतौर दी गई। प्राथमिक वर्ग को बालप्रहरी संपादक उदय किरौला ने खेल भी कराया।

      भारत ज्ञान विज्ञान समिति के प्रांतीय कोषाध्यक्ष प्रमोद तिवारी, भारत ज्ञान विज्ञान समिति के जिलाध्यक्ष अनिल पुनेठा, जिला सचिव जगदीश पाठक व बालप्रहरी संपादक उदय किरौला ने संचालन किया। विभिन्न प्रतियोगिताओं का मूल्यांकन रमसा से जुड़े विनोद राठौर, प्रेमा गड़कोटी, राजेंद्र सिंह रावत, मोती प्रसाद साहू, डॉ एम एस राणा, भगवत बगडवाल, इंदिरा तिवारी, लीला खोलिया, देवराज वर्मा, गरिमा राणा, ममता बिनौली, युगल मठपाल, हेमलता वर्मा, दिनेश चंद्र पांडे आदि ने किया। विभिन्न स्कूलों के शिक्षक व अभिभावकों ने प्रमाण पत्र लिखने में मदद की।

     पर्यावरणविद डॉ जे एस मेहता, प्रधानाचार्य सुरेशचंद्र पाठक, दयाकृष्ण कांडपाल, विनोद राठौर आदि ने बच्चों को संबोधित किया। प्रमोद तिवारी ने सभी का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि बाल दिवस के अवसर पर रविवार को इस कार्यक्रम को रखने के पीछे हमारा मानना है कि अधिक से अधिक बच्चों की भागीदारी हो।

***

* समस्त तस्वीरें- उदय किरौला जी। 

Share this post

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!