साथियों, देश में कोरोना वायरस की तीसरी लहर का खतरा बना हुआ है। इसलिए हम सभी को सजग रहने की जरूरत है। वैक्सीन जरूर लगायें और कोविड नियमों का पालन करें। तभी हम स्वयं की व दूसरों की सुरक्षा कर पाने में सक्षम हो पायेेंगे।

चमोली जनपद में ऋषिगंगा नदी पर टूटा बांध, तटीय क्षेत्रों में अलर्ट

चमोली जनपद में ऋषिगंगा नदी पर टूटा बांध, तटीय क्षेत्रों में अलर्ट

       चमोली, ANI व अन्य मीडिया सूत्रों के अनुसार, रविवार सुबह एवलांच के बाद चमोली जिले के अंर्तगत ऋषिगंगा नदी पर रैणी गांव में निर्माणाधीन 24 मेगावाट के हाइड्रो प्रोजेक्ट का बैराज टूट गया। इसके बाद मलबे और पानी का तेज बहाव धौलीगंगा की ओर बढ़ा, जिस कारण रैणी से करीब 10 किमी दूर तपोवन में धौलीगंगा नदी पर निर्माणाधीन 520 मेगावाट की विद्युत परियोजना का बैराज भी टूट गया। इसके बाद हालात बिगड़ गए। दोनों प्रोजेक्ट पर काम कर रहे बड़ी संख्या में मजदूरों के बहने की सूचना है। आपदा का कारण ग्लेशियर का टूटना बताया जा रहा है। 

      (Watch Video 🎥 👆) 

      राज्‍य आपदा प्रबंधन विभाग ने अलर्ट जारी कर दिया है।  चमोली में बांध टूटने की घटना के बाद पैदा हुए हालात को देखते हुए पौड़ी जिला प्रशासन भी अलर्ट मोड पर आ गया है। डीएम धीराज सिंह ने बताया कि धारी देवी के पास बने बांध से पानी छोड़ने के आदेश जारी कर दिए हैं। श्रीनगर में नदी वाले इलाकों में रहे लोगों को हटाने के निर्देश जारी कर दिए हैं। जिला प्रशासन, एसडीआरएफ के अधिकारी और कर्मचारी और आई.टी.बी.पी. ने मोर्चा संभाल लिया है।

        सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अलर्ट करते हुए लिखा है कि चमोली के रिणी गांव में ऋषिगंगा प्रोजेक्ट को भारी बारिश व अचानक पानी आने से क्षति की संभावना है। नदी में सैलाब आने से अलकनंदा के निचले क्षेत्रों में भी बाढ़ की संभावना है। तटीय क्षेत्रों में लोगों को अलर्ट किया गया है। नदी किनारे बसे लोगों को क्षेत्र से हटाया जा रहा है।

        (Watch Video 🎥 👆) 

       एहतियात के लिए भागीरथी नदी का फ्लो रोक दिया गया है। अलकनन्दा का पानी का बहाव रोका जा सके इसलिए श्रीनगर में GVK डैम तथा ऋषिकेष के वीरभद्र डैम को खाली करवा दिया है।

   SDRF अलर्ट पर है। मेरी आपसे विनती है कि अफवाहों पर बिल्कुल भी ध्यान ना दें। सरकारी प्रमाणिक सूचनाओं पर ही ध्यान दें। मैं स्वयं घटनास्थल पर रवाना हो रहा हूं।

     अगर आप प्रभावित क्षेत्र में फंसे हैं और आपको किसी भी तरह की मदद की जरूरत है तो कृपया आपदा परिचालन केंद्र के नम्बर 9557444486 तथा सीएम हेल्पलाइन नंबर 1905 पर संपर्क करें। कृपया घटना के बारे में पुराने वीडियो से अफवाह न फैलाएं।

       इधर आपदा में 100-150 लोगों के हताहत होने की खबर आ रही है। पी.एम. नरेंद्र मोदी ने सहायता हेतु वायुसेना के MI-17 विमान भेजने के लिए कहा है। उन्होंने देश से लोगों की सुरक्षा हेतु प्रार्थना करने के लिए कहा है। 

Share this post

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!