हीरा सिंह राणा – Dr. Pawanesh

कठिन नहीं कोई भी काम, हर काम संभव है। मुश्किल लगे जो मुकाम, वह मुकाम संभव है - डॉ. पवनेश।

Tag: हीरा सिंह राणा

लोकगायक हीरा सिंह राणा का कुमाउनी लोकसंगीत व साहित्य को योगदान

लोकगायक हीरा सिंह राणा का कुमाउनी लोकसंगीत व साहित्य को योगदान (Contribution of folk singer Heera Singh Rana to Kumauni folk music and literature)        साथियों, 13 जून, 2020 की रात्रि 2 बजे लोकगायक हीरा सिंह राणा के रूप में कुमाउनी लोकसंगीत के एक सुनहरे अध्याय का अंत हो गया। राणा जी का

कुमाउनी कविता संग्रह: प्योली और बुरांस, Kumauni Poetry Collection: Pyauli aur Burans

कुमाउनी कविता संग्रह: प्योली और बुरांस Kumauni Poetry Collection: Pyauli aur Burans        क्या जानते हैं रूपसा रमूली घुङर न बजा छम-छम, आलिली बाकरी लिली छ्यू छ्यू, रंगीली बिंदी घागर काई जैसे लोकप्रिय गीतों के रचनाकार कौन हैं ? पुस्तक चर्चा के अन्तर्गत आज हम बात करते हैं इसी रचनाकार के कुमाउनी कविता
error: Content is protected !!